Monday, 28 March 2016

पुछथीन चन्द्रमा बहीनी सुरज भइया से बतीया - छठ के गीत ८७

पुछथीन चन्द्रमा बहीनी सुरज भइया से बतीया - छठ के गीत ८७

पुछथीन चन्द्रमा बहीनी सुरज भइया से बतीया।
कहँमा लागल हो भइया एहो अति देरिया।
बाटे भेटल गे बहीना बाझीन तीरियबा।
पुत्र देअइते गे बहीन लागल अति देरिया।


No comments:

Post a Comment

स्वच्छ भारत - कविता

स्वच्छ भारत - कविता स्वच्छता के बीज बापू| लगा गए अरमान से|| आज हमारे देश भक्त| लहलहा दिए बड़े लाड से|| स्वच्छता के वृक्ष व...